ब्रिटेन के आम चुनाव में लेबर पार्टी की जीत: 650 में से 341 सीटें जीतीं, स्टार्मर बनेंगे पीएम

नई दिल्ली। ब्रिटेन के आम चुनाव में लेबर पार्टी ने जीत दर्ज कर ली है। 650 में से 488 सीटों पर आए नतीजों में लेबर पार्टी को 341 सीटें मिल चुकी हैं। सरकार बनाने के लिए संसद में 326 सीटों की जरूरत होती है। वहीं भारतीय मूल के ऋषि सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी को अब तक सिर्फ 72 सीटें मिल पाई हैं। लेबर पार्टी के लीडर सर कीर स्टार्मर ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री होंगे। नतीजे सामने आने के बाद हार मानते हुए सुनक ने अपनी कंजर्वेटिव पार्ट से माफी मांगी। उन्होंने स्टार्मर को फोन कर जीत की बधाई भी दी। इससे पहले सुनक ने अपनी सीट रिचमंड और नॉर्थेलर्टन से जीत दर्ज की। वहीं लेबर पार्टी से PM पद के कैंडिडेट कीर स्टार्मर भी लंदन की होलबोर्न और सेंट पैनक्रास सीट पर जीत चुके हैं। ब्रिटेन में 4 जुलाई को सुबह 7 बजे 40 हजार पोलिंग सेंटर्स पर वोटिंग शुरू हुई थी। रात 10 बजे (भारतीय समयानुसार 2:30 बजे) वोटिंग खत्म होने के कुछ देर बाद एग्जिट पोल के नतीजे सामने आए। इसमें भारतवंशी सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी की करारी हार का अनुमान लगाया गया था।
2019 के चुनाव में जीती थी सुनक की पार्टी
2019 में 67.3% वोटिंग हुई थी। तब सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी को 365, कीर स्टार्मर की लेबर पार्टी को 202 और लिबरल डेमोक्रेट्स को 11 सीटें मिली थीं। इस बार लगभग सभी सर्वे में कंजर्वेटिव पार्टी की करारी हार की आशंका जताई गई थी। यूगोव के सर्वे में लेबर पार्टी को 425, कंजर्वेटिव को 108, लिबरल डेमोक्रेट को 67, SNP को 20 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है।
सुनक ने सर कीर स्टार्मर को जीत की बधाई दी
अपनी सीट पर जीत दर्ज करने के बाद ऋषि सुनक ने रिचमंड एंड नॉर्थेलर्टन की जनता का शुक्रिया अदा किया। चुनाव में पार्टी की हार स्वीकारते हुए सुनक ने कहा, “लेबर पार्टी यह चुनाव जीत चुकी है। मैंने सर कीर स्टार्मर को फोन करके इसकी बधाई भी दी।” सुनक ने कहा, “आज देश की सत्ता बदल जाएगी। मुझे देश की स्थिरता और भविष्य को लेकर पूरा भरोसा है। ब्रिटेन की जनता ने आज अपना फैसला सुनाया है और हमें इससे बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। मैं इस हार की जिम्मेदारी लेता हूं। पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने चुनाव में पूरी मेहनत की। मैं उनसे माफी मांगता हूं।”
सुनक अपनी सीट से चुनाव जीते
ऋषि सुनक अपनी सीट रिचमंड और नॉर्थेलर्टन से जीत गए हैं। उन्होंने 23 हजार 059 वोटों से जीत दर्ज की। सुनक के बाद दूसरे नंबर पर लेबर पार्टी के टॉम विल्सन रहे। उन्हें 10 हजार 874 वोट मिले। नतीजों की घोषणा के दौरान सुनक पत्नी अक्षता मूर्ति के साथ काउंटिंग सेंटर पर मौजूद थे।
जीत के बाद स्टार्मर बोले- यह दिखावे की राजनीति का अंत
लंदन की होलबोर्न और सेंट पैनक्रास सीट पर जीत दर्ज करने के बाद कीर स्टार्मर ने कहा, “मैं अपने चुनाव क्षेत्र में रह रहे हर एक नागरिक के हित में काम करूंगा। मैं सभी की आवाज बनूंगा। देश की जनता अब बदलाव के लिए तैयार है। यह दिखावे की राजनीति का अंत है। ये जनता का लोकतंत्र है, उन्होंने वोट दिया। अब हम उनकी बदलाव लाकर दिखाएंगे। PM ऋषि सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी बीते 14 सालों से सत्ता में रही। हालांकि, पार्टी के शीर्ष नेतृत्व में लगातार उथल-पुथल की स्थिति बनी हुई थी। कंजर्वेटिव पार्टी ने पिछले 5 सालों में 4 बार प्रधानमंत्री बदला है। चुनाव परिणाम से पहले गुरुवार को लंदन के शेयर बाजार और पाउंड में डॉलर के मुकाबले बढ़त दर्ज की गई। इसकी वजह कंजर्वेटिव पार्टी की हार का अनुमान बताया जा रहा है। इस बार ब्रिटेन में राजनीतिक दलों ने सबसे अधिक भारतवंशी उम्मीदवारों को टिकट दिया था। इस बार कुल 107 ब्रिटिश इंडियन कैंडिडेट्स को टिकट मिला। लेबर पार्टी ने सबसे अधिक 33 उम्मीदवारों को टिकट दिया। वही, कंजर्वेटिव पार्टी ने कुल 30 उम्मीदवारों को टिकट दिया।

About Post Author

You may have missed