December 6, 2022

राजद के लिए जेएनयू से बुरी खबरः पांच उम्मीदवारों में चैथे स्थान पर रहे राजद के जयंत कुमार

राजद और तेजस्वी यादव के लिए बुरी खबर है। बुरी खबर जेएनयू से आयी है जहां तेजस्वी की तमाम उम्मीदांे पर पानी फिर गया है। जेएनयू में उनके उम्मीदवार की बुरी हार हुई है। जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए राजद उम्मीदवार जयंत कुमार चैथे स्थान पर रहे हैं। जानकारी के मुताबिक छात्र संघ के चुनाव प्रचार के दौरान तेजस्वी यादव और उनकी सोशल मीडिया टीम में ऐसे दावे किये मानों उनका उम्मीदवार बिना किसी मुकाबले के जीत रहा है. लेकिन काउंटिंग में इसकी हवा निकल गयी. जानकारों की मानें तो एक जाति के छात्रो का वोट तेजस्वी के उम्मीदवार जयंत कुमार को मिला. फिर भी कुल 479 वोट ही मिले. जयंत कुमार कुल पाँच उम्मीदवारों में चैथे स्थान पर रहे. अध्यक्ष समेत सभी पदों पर वामपंथी छात्र संगठनों के साझा उम्मीदवारों की जीत हुई. ।ठटच् के प्रत्याशी सभी पदों पर दूसरे स्थान पर रहे.

तेजस्वी ने लगाया आरोप जेएनयू में छात्रों की भावनाओं और अधिकारों के साथ हो रहा खिलवाड़
जेएनयू में मतगणना रूकने पर तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया है कि विगत 12 घंटो से जेएनयू छात्र यूनियन के चुनावों की काउंटिंग बंद है। सुरक्षाकर्मियों को घायल कर दिया गया है। ई.सी. मेम्बर्स के बीच दहशत फैलायी जा रही है छात्र राजद की संभावित जीत देखकर मनुवादियों और हिपोक्रेट्स ने अनावश्यक बखेड़ा खड़ा कर रखा है।’ तेजस्वी यादव ने लिखा कि जेएनयू में छात्रों की भावनाओं और अधिकारों के साथ हो रहा खिलवाड़। अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि जेएनयू में छात्रों की भावनाओं और अधिकारों के साथ खिलवाड़ हो रहा है। यूनिवर्सिटी कैम्पस में भी अगर लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को ध्वस्त किया जाने लगेगा तो फिर देश भगवान भरोसे रह जाएगा। युवाओं का कारवां छात्र राजद के साथ निकल पड़ा है। उसे कोई ताकत नहीं रोक सकती।’

About Post Author

You may have missed