December 3, 2023

वैशाली में 18 दिनों से लापता नाबालिक लड़की का शव मिलने से हड़कंप, पिता ने डांटा तो घर से भागी थी बेटी

हाजीपुर। वैशाली में 18 दिनों से लापता नाबालिग का शव उसके घर से महज 500 मीटर दूर मिला है। लड़की एक अक्टूबर से गायब थी। उसके पिता ने थाने में लापता होने की शिकायत भी करवाई थी। पिता ने बताया कि कुछ दिनों पहले बेटी के पास एक मोबाइल फोन मिला, जब इसे लेकर मैंने पूछताछ की, उसे डांट लगाई तो मेरी बेटी बिना बताया कही चली गई। मामला लालगंज थाना क्षेत्र के पुरखौली गांव का है। जहां लड़की के घर से तकरीबन 500 मीटर दूर स्थित चौड़ की पोखर से उसका शव मिला। लालगंज थाने की पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर देर रात भेज दिया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। मृतका की पहचान लालागंज पुरखौली गांव निवासी रामबाबू राम की बेटी चांदनी कुमारी (14) के रूप में हुई है। मृतका चार बहनों में दूसरे नंबर पर है और 10वीं क्लास की छात्रा थी। उसके पिता मजदूरी कर परिवार चलाते है। चांदनी अपने घर से बीते 1 अक्टूबर से ही गायब थी। नहीं मिलने पर संबंधित थाने में एफआइआर दर्ज करवाई गई थी। परिजन भी उसकी खोजबीन कर रहे थे। इस बीच 18 दिन बाद चौड़ की पोखर में शव होने की सूचना पर ग्रामीण जमा हो गए। शव की पहचान होने पर परिजन उस जगह पहुंचकर पुलिस को सूचना दी थी। मृतका के पिता रामबाबू राम ने कहा कि उसके पास एक महीने पहले मोबाइल देखें थे। तभी उसको डांट फटकार लगाई गई थी। इसके बाद वो घर से गायब हो गई। उन्होंने कहा कि यदि उसे मोबाइल की जरूरत थी तो हमसे बोलती। सिर्फ मोबाइल के बारे में जानकारी मांगा था तो गुस्सा हो गई थी और घर से गायब हो गई थी। फिलहाल शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। लालगंज थानाध्यक्ष धनंजय कुमार पांडे ने बताया कि पिता ने किसी पर हत्या करने का आरोप नहीं लगाया है। पिता से पूछताछ में पता चला कि लड़की घर 1 अक्टूबर से ही गायब थी। जिसे लेकर थाना में गुमशुदगी का मामला दर्ज करवाया गया था। मामला दर्ज होने के बाद पुलिस छानबीन कर रही थी। तभी शव मिलने की सूचना परिजनों द्वारा दी गई। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। फिलहाल मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।

About Post Author

You may have missed