बिहार बोर्ड अब कोर्ट भरोसे: कौकब कादरी

पटना। बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने बयान जारी कर कहा कि बिहार बोर्ड अपनी अनियमितताओं की वजह से कुख्यात हो चूका है। बोर्ड की कार्यप्रणाली व बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर की नियुक्ति विवाद में उच्च न्यायालय की बार-बार की जा रही टिप्पणी बिहार सरकार के लिए शर्म का विषय है। समझना मुश्किल है कि मुख्यमंत्री की ऐसी क्या मजबूरी है कि इन्हें कोई दूसरा योग्य व्यक्ति नहीं दिखता। प्रदेश कांग्रेस बिहार में शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने, शिक्षकों को नियमित वेतन भुगतान करने एवं प्राथमिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक में शिक्षकों की कमी दूर करने की मांग करती है। शिक्षा से संबंधित जितने संस्थान है उनकी कार्यप्रणाली को पारदर्शी, इमानदार एवं जवाबदेह बनाया जाना चाहिए। वर्तमान शिक्षा व्यवस्था से पूरी की पूरी युवा पीढ़ी बर्बाद हो जाएगी अगर इस ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया। राजनीति से अलग शिक्षा का स्तर सुधारने के सभी प्रयास किये जाने चाहिए। हमारी पार्टी एक जिम्मेदार विपक्ष के नाते साकारात्मक एवं रचनात्मक सहयोग करेगी। लंबे समय तक स्थिति नहीं सुधरी तो प्रदेश का पूरी तरह से पिछड़ जाना सुनिश्चित है। प्रदेश कांग्रेस जनहित में, छात्रों के हित में चुप नहीें बैठ सकती, पहले सहयोगात्मक रवैये के बाद इस विषय पर स्थिति नहीं सुधरने पर आंदोलन भी होगा।

About Post Author