December 10, 2022

बाढ़ हादसा: दो सुपरवाइजर तथा बख्तियारपुर स्थित डिपो के एक सुपरवाइजर निलंबित, दो की हालत गंभीर

हाजीपुर। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने प्रेस विज्ञाप्ति जारी कर जानकारी दी है कि आज लगभग 11.30 बजे बाढ़ स्टेशन के निकट निर्माण विभाग द्वारा एनआई कार्य हेतु कार्य कराया जा रहा था। ड्रॉप आर्म लगाने के लिए टीटीसी बूम पर ठेकेदार के 10 मजदूरों ने बिना पावर ब्लॉक लिये हुए कार्य करना प्रारंभ कर दिया। जबकि सुरक्षा के दृष्टिकोण से इस तरह के कार्य के लिए पावर ब्लॉक लेना एक अपरिहार्य प्रक्रिया है। कार्य के दौरान ही सीढी टूट जाने के कारण सभी मजदूर सीढ़ी के लाइन से स्पर्श करने के कारण गिर गए और सीढ़ी पकड़ने वाले मजदूर बिजली के झटके से झुलस गये। इस घटना की जांच के लिए उच्चस्तरीय जांच कमिटी का गठन किया गया है। मुख्य बिजली वितरण इंजंीनियर जांच हेतु बाढ़ रवाना हो गये हैं। मुख्य विद्युत इंजीनियर (निर्माण), उप मुख्य विद्युत इंजीनियर एवं अन्य अधिकारी घटना स्थल पर कैम्प कर रहे हैं। त्वरित कार्रवाई करते हुए रेल प्रशासन ने निर्माण विभाग के दो सुपरवाइजर तथा दानापुर मंडल के बख्तियारपुर स्थित डिपो के एक सुपरवाइजर को निलंबित कर दिया है। इस कार्य के लिए पिछले तीन दिनों से दानापुर मंडल द्वारा पावर ब्लॉक दिया जा रहा था तथा कार्य को सुरक्षित तरीके से करने के लिए टावर वैगन भी दिया जा रहा था। आज भी पावर ब्लॉक देने और उसमें कार्य करने के लिए टावर वैगन कार्यस्थल पर जाने के लिए तैयार था। वहीं रेल एसपी और ग्रामीण एसपी ने घटनास्थल का जायजा लिया और कहा कि ठेकेदारों पर आपराधिक मामला दर्ज की जाएगी।
स्थानीय लोगों द्वारा बाढ़ स्टेशन पर प्रदर्शन के फलस्वरूप स्टेशन पर 1.55 बजे तक गाड़ियों का परिचालन बाधित रहा। इस दौरान ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस, इंटरसिटी एक्सप्रेस, मुंबई एक्सप्रेस, बांका एक्सप्रेस, राज्यरानी एक्सप्रेस तथा 13008 तुफान एक्सप्रेस का परिचालन बाधित हुआ।

About Post Author

You may have missed