December 6, 2022

बाढ़ के कई गांवों में डेेंगू का प्रकोप; दर्जनों पीड़ित, स्वास्थ्य विभाग है सोए

बाढ़ (अखिलेश्वर सिन्हा)। बाढ़ अनुमंडल के कई गांवों में डेेंगू का प्रकोप फैल चुका है। डेंगू के कारण दर्जनों लोग आक्रांत व भयभीत हैं। हालत है कि बाढ़ अनुमंडल के डॉक्टर हो या पटना के आलाधिकारी उन्हें उक्त जानकारी है या नहीं, कहा नहीं जा सकता। जबकि बाढ अनुमंडल के लगभग आधा दर्जन गांवों में डेंगू का प्रकोप सामने आया है, जिसमें सहनोरा, महराजगंज, दरगाही टोला, सपेरा तल, शहरी इत्यादि कई गांव शामिल हैं। वहीं बाढ़ अनुमंडल अस्पताल के डॉक्टर से इस बाबत पूछने पर सीधा जवाब देते हैं कि डेगू का इलाज इस अस्पताल में नहीं होता है। जो भी डेंगू प्रभावित मरीज इलाज के लिए यहां आते हैं, उन्हें तुरंत पटना रेफर कर दिया जाता है।

वहीं दूसरी ओर बाढ़ अनुमंडल अस्पताल में डेंगू का इलाज नहीं होने के कारण परिजन अपने मरीज को प्राइवेट हॉस्पिटलों में भर्ती करवा रहे हैं। बताया जाता है कि स्थानीय डॉक्टर सियाराम सिंह के हॉस्टिल में लगभग 60 मरीजों का इलाज चल रहा है। लगभग 15-20 मरीज ठीक हो कर पहले ही घर जा चुके हैं। मरीजों के परिजनों ने बताया कि लाचार होकर प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराने को विवश हैं। उन्होंने आक्रोश जाहिर करते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग सोए हुए है। जब लोग उक्त बिमारी से काल कलवित होंगे तब जाकर विभाग या राज्य सरकार जागेगी।
बताया जाता है कि बाढ़ अन्तर्गत शहरी, पंडारक प्रखंड के सहनौरा, महाराजगंज, दरगाही टोला, छपेरातर आदि में डेंगू के तीन दर्जन से अधिक मरीज मिले हैं। अनुमंडल अस्पताल में डेंगू का कोई इलाज उपलब्ध नहीं होने पर राजद नेता राजीव कुमार चुन्ना ने आक्रोश जताते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे से शीघ्र बाढ़ के अनुमंडलीय अस्पताल में डेंगू मरीजों के लिए चिकित्सीय सेवा बहाल करने और मेडिकल टीम गठित करने की मांग की है। ताकि डेंगू से प्रभावित मरीजों की पहचान कर उचित इलाज करायी जा सके।

About Post Author

You may have missed