February 26, 2024

रुपयों के लेन-देन के विवाद में अभिषेक की हुई हत्या, दोस्तों ने अपहरण कर मौत के घाट उतारा

पटना। राजधानी पटना में हुए अभिषेक हत्याकांड मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पटना पुलिस ने मामले का पर्दफाश करते हुए हत्या में शामिल आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही अपराधियों द्वारा दी गई सूचना के बाद लाश को भी बरामद कर लिया गया है। दरअसल, नौबतपुर थानाक्षेत्र के परसा बाजार निवासी मंटू कुमार की पत्नी मुन्नी देवी ने अपने पुत्र अभिषेक उर्फ छोटू के अपहरण को लेकर बीते 11 जनवरी को नौबतपुर थाने में अपहरण का मामला दर्ज कराया था। वही इस मामले में अभिषेक के साथी अजीत कुमार पर आरोप लगाया था। पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए आरोपी अजीत कुमार को हिरासत में ले लिया। वही हिरासत में लेने के बाद पुलिस आरोपी अजीत कुमार से घटना को लेकर काफी देर तक पूछताछ करते रही। इसके बाद अजीत ने एक-एक कर जानकारी देना शुरू किया। अजीत कुमार ने बताया कि 6 जनवरी को अभिषेक को अपने बाइक पर बैठकर नौबतपुर के नगवा गांव लाया था। जहां, उसने अपने साथियों के साथ मिलकर छोटू की हत्या कर दी थी। वही इस हत्या में चीकू कुमार, सिंकु कुमार, अमित उर्फ डॉन, चिन्ता कुमार व साधु पासवान भी शामिल थे। वहीं, अजीत ने बताया कि हत्या के बाद शव को बगीचे के बगल के पोखर में फेंक दिया। लेकिन 11 जनवरी को पता चला कि शव पोखर से बाहर आ गया है। फिर 12 तारीख को अजीत दोस्तों के साथ मिलकर शव को पोखर के बगल में गड्ढा खोद कर शव को दफना दिया। अजीत की इस जानकारी के बाद पुलिस घटना में शामिल अन्य साथियों की तलाश में जुट गई है। इधर, एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है।

About Post Author

You may have missed