December 6, 2022

खुशखबरी: पटना एम्स में बर्न सेंटर यूनिट निमार्ण को मिली हरी झंडी

फुलवारीशरीफ। बिहारवासियों के लिए खुशखबरी यह है कि अतिगंभीर अवस्था में बर्न पेसेंट को अब बिहार से बाहर नहीं जान होगा। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान पटना में बर्न सेंटर बनने को हरी झंडी मिल चुकी है। एनटीपीसी और एम्स पटना इस मामले पर 26 सितम्बर 2018 को सुबह 11 बजे एमओयू साइन करेंगे। बर्न एंड प्लास्टिक की विभागाध्यक्षा डॉ.वीना सिंह ने बताया कि एनटीपीसी, कॉरपोरेट शोसल रिसपॉन्सिबिलिटी के तहत 12.5 करोड़ रुपए एम्स पटना के बर्न सेंटर पर खर्च करेगा। यह बर्न सेंटर टर्शरी केयर सेंटर होगा, यानि बर्न के ऐसे मरीज जिनका इलाज बिहार के अन्य अस्पतालों में संभव नहीं है, उनका इलाज यहां किया जाएगा। डॉ. वीणा सिंह ने बताया कि बर्न सेंटर में 80 बेड होंगे, जिसमें से 20 बेड आईसीयू के होंगे। एम्स पटना परिसर में बर्न सेंटर, दस हजार वर्ग फुट में बनकर तैयार होगा। इसमें दो आॅपरेशन थिएटर, डेÑसिंग रूम और स्किन बैंक भी होगा।

About Post Author

You may have missed