December 8, 2022

दिसंबर तक बेऊर एसटीपी का कार्य होगा पूरा

विश्व बैंक की टीम ने साईट विजिट कर कार्यों का लिया जायजा

पटना। विश्व बैंक की टीम ने नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत चल रहे सभी 11 प्रोजेक्ट का जायजा लिया। विश्व बैंक की टीम तीन दिवसीय दौरे पर पटना आई और नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत चल रहे सभी एसटीपी सीवरेज नेटवर्क के कार्यों का मुआयना किया। सबसे पहले टीम बेऊर गई। वहां पर चल रहे कार्य का जायजा लिया। इसके बाद बेऊर के नेटवर्क के काम को देखा जो कि एलएनटी के द्वारा कराया जा रहा है। 180 किलोमीटर अब तक 67 किलोमीटर का कार्य पूर्ण हो गया है। बाकी का काम प्रगति पर है। दिसंबर में नेटवर्क एसटीपी 1 फेज का काम हो जाएगा। नेटवर्क के जरिए पाईप बिछाया जा रहा है। इसके बन जाने के बाद 8000 घरों को लाभ मिलेगा, जो कि 10 11 वार्ड में शामिल है। इसके अंतर्गत 2000 हाउस चेंबर बनाए जा रहे हैं जिससे सभी घरों को जोड़ा जाएगा ताकि घर से निकलने वाले सीवरेज को नेटवर्क के जरिए एसटीपी तक पहुंचाया जा सके और गंगा को गन्दगी से बचाया जा सके। इसके बाद पहाड़ी स्थल का जायजा लिया। एसटीपी और नेटवर्क के जरिए वहां पर कार्य जारी है। साईट पर कुछ बौन्ड्री वाल टूटा है, जिसे जल्द जोड़ने को कहा। इसके बाद आर एम आर आई अस्पताल के अंदर बनने वाले पंपिंग स्टेशन का जायजा लिया। विश्व बैंक की टीम ने सैदपुर एसटीपी का जायजा लिया। क्लोरिशन टैंक पंप हाउस का कार्य चालू है। पानी स्टोरेज के लिए 4 तालाबों का निरीक्षण किया। मेन पंपिंग स्टेशन के लिए बन रहे 60 फुट के गहरे कुआं को नजदीक से देखा और उसका कार्य से संतुष्ट हुआ जिसमें अब तक 48 फुट का काम कंप्लीट हो चुका है सैदपुर में कुछ लेबर कैंप में कमियां देखी जिसे तुरंत ठीक करने का निर्देश दिया।
इसके बाद टीम के द्वारा प्रधान सचिव नगर विकास विभाग शाम के 5 बजे मीटिंग की गई। मीटिंग में चल रहे कार्यों को बताया गया। इस बीच जो भी प्रॉब्लम है उस पर प्रधान सचिव को ध्यान आकृष्ट कराया गया। कुछ जमीन NOC भी अप्राप्त है जिसे जल्द से जल्द क्लियर करने का निर्देश दिया गया प्रधान सचिव के द्वारा, ताकि संवेदक को कार्य करने में कोई परेशानी ना हो और कार्य समय सीमा के अंतर्गत समाप्त किया जा सके। इसमें मुख्य रूप से एग्जीबिशन रोड पंपिंग स्टेशन, मेहंदीगंज, संदलपुर और आरएमआरआई इन चार जमीनों का एनओसी लेना है जो क्लियर कराने का आग्रह किया। प्रधान सचिव ने अपने स्तर से निबटाने का जल्द आश्वासन दिया। साथ ही बुडको एमडी पटना डीएम से मिलकर एनओसी प्राप्त करने हेतू मीटिंग भी हुई है। प्रधान सचिव के द्वारा 3000 रुपया हाउस कनेक्शन जोड़ने के लिए सरकार द्वारा दिया जाएगा इस पर एक टीम बनाने को निर्देश दिया ताकि वह हाउस टू हाउस सर्वे करके इस काम को जल्द से जल्द निष्पादित करें।
दिसंबर 2018 में 45 MLD एसटीपी बेऊर शुरु करना है। जिसमे चार लेयर तक का ढलाई हो चुका है जो कुल मिलाकर 10 फुट का कार्य पूर्ण हो गया है जबकि कुल 20 फुट कार्य करना है। वर्ल्ड बैंक की टीम ने कार्य संतुष्टि जाहिर करते हुए कहां के संवेदक के साथ मिलकर बेहतर ढंग से काम करने से परिणाम बेहतर होंगे और लक्ष्य के अनुसार हम इसे पूर्ण कर देंगे। विश्व बैंक की टीम के साथ बुडको को एमडी के निर्देश पर सभी साइड से संबंधित प्रोजेक्ट डायरेक्टर गिप्पी, प्रोजेक्ट डायरेक्टर और पीआरओ चंद्रभूषण कुमार मौजूद रहकर सभी साइट का बारीकी से निरीक्षण कर समस्याओं का भी समाधान निकालने को कहा गया।

About Post Author

You may have missed