जहानाबाद की घटना प्रशासनिक विफलता का परिणाम: राहुल

जहानाबाद। शुक्रवार को जिले के बड़ी ठाकुरबाड़ी में दशहरा के दौरान महिलाओं पर हुए दरिंदगी पूर्ण हमला पूरी तरह से प्रशासनिक विफलता का परिणाम है। अगर जिला प्रशासन इतने बड़े अवसर पर थोड़ा भी सचेत रहता तो इस घटना को रोका जा सकता था। जहानाबाद जिला में प्रशासन पंगु हो गया है। अपराधियों के हौसले बुलंद हैं वहीं आम जनता भय एवं खौफ के साए में जीने के लिए विवश है। यह बातें घोषी के पूर्व विधायक एवं मगध के प्रभावशाली युवा नेता राहुल कुमार ने कहीं। पूर्व विधायक ने इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए प्रशासन से शीघ्र दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की है। पूर्व विधायक राहुल ने कहा कि प्रशासन इस घटना की गंभीरता को कम करके आंक रही है। पीड़ित महिलाओं का अस्पताल में भी बुरा हाल है।वे शारीरिक एवं मानसिक पीड़ा से उबर नहीं पा रही हैं। उन्होंने कहा कि जिला में प्रशासन का खुफिया तंत्र किस हद तक निष्क्रिय हो चुका है, इस घटना से उसका सहज ही अंदाजा लगा लगाया जा सकता है।
ज्ञात हो कि जहानाबाद में गत शुक्रवार को दशहरा मेले के दौरान मेले में घूमने आई महिलाओं पर ब्लेड मार दरिंदों ने हमला किया था। जिसमें लगभग दो दर्जन महिलाओं के घायल होने की खबर है। ब्लेड मारी की घटना से पूरे जिले में खौफ का माहौल व्याप्त है। पिछले वर्ष भी दशहरा के दौरान ब्लेड मारी की घटना हुई थी। मगर प्रशासन ने उससे भी कोई सबक हासिल नहीं किया।

About Post Author