December 10, 2022

सात महीने के अंदर पति व प्रेमी के हुई हत्या के बाद फरार होने के क्रम में आरोपी महिला चलती ट्रेन से गिरफ्तार

फतुहा। रविवार को फतुहा रेल पुलिस ने नालंदा जिले की एक महिला को सात महीने के भीतर पति व प्रेमी के हुई हत्या के बाद फरार होने के क्रम में एक युवक के सहयोग से चलती ट्रेन में गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार महिला की पहचान नालंदा जिले के छबीलापुर थाना क्षेत्र के बढौना गांव निवासी स्वर्गीय  दुर्गा प्रसाद की पत्नी सरिता देवी उर्फ मंशा मइया के रूप मे हुई है। गिरफ्तार महिला पर अपने प्रेमी छबीलापुर थाना क्षेत्र के हीं कंचनपुर गांव निवासी उपेन्द्र सिंह जो कि पेशे से डीलर था, के साथ मिलकर पति को जहर देकर मार देने का आरोप है। नालंदा की छबीलापुर पुलिस इस मामले की तफ्तीश कर हीं रही थी तभी इसके प्रेमी उपेन्द्र सिंह का भी बीते सत्रह अक्टूबर को महतोपुर के खंदा में गला दबाकर हत्या कर दी गई तथा उसके शव को बगल के सड़क के किनारे फेंक दी गई। इस मामले में भी मृतक उपेन्द्र सिंह की पत्नी अनीता सिन्हा ने इस महिला को मुख्य आरोपी बनाते हुए छबीलापुर थाना में प्राथमिकी दर्ज करायी थी। इस बात की पुष्टि करते हुए फतुहा पहुंचे छबीलापुर थाना प्रभारी आशुतोष प्रसाद ने बताया कि गिरफ्तार महिला सरिता देवी उर्फ मंशा मइया बहुत ही शातिर महिला है तथा शातिर तरीके से हीं यह अपने बेटे के साथ फरार होने के चक्कर में थी। उसकी गिरफ्तारी भी ट्रेन में नाटकीय ढंग से हुई है। पहले तो वह अपने बेटे के साथ पटना गयी। उसके बाद पटना से ट्रेन पकड़कर कंही  और जगह के लिए निकलने लगी। लेकिन ट्रेन में हीं उसने शातिर दिमाग चलाकर  एक युवक से मोबाइल फोन मांगकर  उसी युवक के विरुद्ध हत्या की तार जोड़कर छबीलापुर थाना को फोन कर दी। जैसे हीं युवक को इस बात की भनक लगी वैसे हीं युवक ने तत्काल फतुहा रेल पु

ने शातिर दिमाग चलाकर  एक युवक से मोबाइल फोन मांगकर  उसी युवक के विरुद्ध हत्या की तार जोड़कर छबीलापुर थाना को फोन कर दी। जैसे हीं युवक को इस बात की भनक लगी वैसे हीं युवक ने तत्काल फतुहा रेल पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस बंका घाट पहुंचकर उस महिला को उसके बेटे के साथ रेल थाना ले आई।बाद में कागजी प्रक्रिया पुरी कर रेल पुलिस ने छबीलापुर थाना प्रभारी को उसे सौंप दिया।

About Post Author

You may have missed