December 6, 2022

दूसरों को ट्रेंड कर स्वरोजगार को प्रेरित करने वाली वीणा कुलश्रेष्ठ नहीं रहीं

पटना सिटी। वर्षों तक सिटी के ग्रामीण और शहरी एरिया के लड़के-लड़कियों को हस्तकला, पेंटिंग, मेहंदी, डांस आदि की ट्रेनिंग दे उन सबों को आत्मनिर्भर बनाने वाली और तूलिका आर्टस की निदेशक वीणा कुलश्रेष्ठ ने आगरा शहर में अंतिम सांस लीं। संतोष कुलश्रेष्ठ की पत्नी वीणा जी बेमारी के बाद बेटे हिमांशु के घर रह रही थीं उनके निधन की खबर मिलते यहां का बड़ा तबका शोकाकुल हो गया। पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, एमएलसी प्रो. सूरजनंदन कुशवाहा, पूर्व डिप्टी मेयर संतोष मेहता, मनोज गोप, पार्षद तारा देवी, कांति देवी ने शोक व्यक्त करते उन्हें कला का प्रेरक बताया। उनके साथ रहे आशीष कुमार जॉनी और राहुल का तो रोकर बुरा हाल था। स्वरांजलि संस्था के द्वारा आयोजित शोकसभा में डॉ ध्रुब कुमार, अनिल रश्मि, आलोक चोपड़ा, राजा पुट्टू, डॉ शीला कुमारी, सुनीता रानी आदि ने उन्हें कला पारखी कहा।

About Post Author

You may have missed