राज्य के नए अपराध नियंत्रण विधेयक को विधानसभा में पेश करेगी सरकार, जबरदस्त हंगामें के आसार

पटना। बिहार विधानसभा में आज अपराध नियंत्रण विधेयक 2024 सरकार लाने वाली है। इसके अलावा आधा दर्जन से अधिक विधेयक सरकार के तरफ से लाया जाएगा।निगम बोर्ड को भंग करने के लिए भी संशोधन विधेयक आज सदन में सरकार की ओर से पेश होगा। क्योंकि, सरकार बदलने के बाद कुछ आयोग को तो भंग किया गया है लेकिन कई आयोग और बोर्ड अभी भी फंक्शन में हैं। वहीं, सरकार के नए अपराध नियंत्रण विधेयक पर आज हंगामा होने के आसार हैं। बिहार विधानसभा का अब दो दिनों का बचा सत्र इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि कई विधायकों के पाला बदलने की चर्चा अब भी हो रही है, उस पर भी सबकी नजर रहेग। बिहार विधानसभा की कार्यवाही से प्रश्न काल से शुरू होगी और आज प्रश्न काल में कई विभागों के प्रश्न लाये जाएंगे। जिसमें कृषि विभाग, राजस्व भूमि सुधार विभाग, सहकारिता विभाग, खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग, पीएचईडी , नगर एवं आवास विभाग और पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग है।  इन विभागों के प्रश्न सदस्य सदन में लेंगे और संबंधित विभाग के मंत्री या प्रभारी मंत्री जवाब देंगे। इसके बाद शून्य काल होगा, जिसमें भी सदस्य कई महत्वपूर्ण समस्याओं को सरकार के सामने उठाएंगे। वहीं, ध्यानकर्षण में सरकार की ओर से सदस्यों के प्रश्नों का विस्तृत उत्तर दिया जाएगा। दूसरे हाफ में सरकार की ओर से 10 राजकीय विधेयक लाने की तैयारी है। इसमें कई महत्वपूर्ण विधायक है, अपराध नियंत्रण विधेयक भी उसी में से एक है, जिस पर चर्चा होगी फिर सरकार का उत्तर होगा। इसके अलावा बिहार लोक सुरक्षा परिवर्तन विधायक 2024, बिहार तकनीकी सेवा आयोग संशोधन विधेयक 2024, साथ ही बोर्ड निगम को भंग करने के लिए संशोधन विधेयक 2024 प्रमुख है। उधर, बिहार विधानसभा की कार्यवाही 1 मार्च तक चलना है और आज के बाद केवल एक दिन और कार्यवाही बच जाएगी। यह लगातार दूसरा सप्ताह है, जब नेता विरोधी दल तेजस्वी यादव सदन में नहीं पहुंचे हैं और आज भी सदन में आने की संभावना कम ही है, क्योंकि जन विश्वास यात्रा में आज भी वो कई स्थानों पर जाने वाले हैं। अब देखना है कि नेता विरोधी दल तेजस्वी यादव की अनुपस्थिति में विपक्ष सरकार की और से लाये जाने वाले विधेयक को लेकर क्या रुख अपनाता है, क्योंकि इससे पहले जब पुलिस संशोधन विधेयक नीतीश सरकार लाई थी तो काफी बवाल मचा था। सदन के अंदर पहली बार पुलिस को बुलाना पड़ा था।

About Post Author

You may have missed