February 25, 2024

आधी आबादी महिलाओं को पूरा हक देने वाले देश के पहले मुख्यमंत्री है नीतीश कुमार : राजीव रंजन

पटना। नीतीश कुमार को महिला सशक्तिकरण के मामले में पूरे देश का रोल मॉडल बताते हुए JDU के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता राजीव रंजन ने आज कहा है कि आधी आबादी को अधिकार देने के मामले सीएम नीतीश ने जितने काम किये हैं वह देश के सभी राजनेताओं के लिए मिसाल है। यह उन्हीं की देन है कि चाहे व शिक्षा हो या नौकरी, बिहार की महिलाएं आज हर क्षेत्र में पुरुषों के कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही हैं। उदहारण देते हुए उन्होंने कहा कि अपने वादे के मुताबिक नीतीश कुमार ने बिहार में नौकरियों की जिस बहार को लाया है उससे सबसे अधिक लाभान्वित महिलाएं ही हुई हैं। अभी तक सरकार लगभग 3.5 लाख सरकारी नौकरियां व तकरीबन 5 लाख रोजगार दे चुकी है। इसके लाभुकों में महिलाओं की संख्या काफी अधिक है। शिक्षा विभाग की ही बात करें तो अभी तक दो चरणों में 2,13,159 शिक्षकों को सरकारी नौकरी दी जा चुकी है। इनमें से 51% महिला शिक्षक हैं। यानी आधी आबादी को पूरे से भी अधिक हक दिया गया है। इसके अतिरिक्त उन्हें पोस्टिंग में भी 35% का अधिकार दिया गया है।

जदयू महासचिव ने आगे कहा कि इसी सरकार ने महिलाओं की नेतृत्व क्षमता पर भरोसा जताते हुए उनकी आधी आबादी के अनुरूप पंचायत व नगर निकायों के चुनावों में 50% आरक्षण दिया है। जिसके कारण आज गांव टोलों में भी महिलाएं कामयाबी का झंडा गाड़ रही हैं। वही इसके अतिरिक्त सरकार जीविका योजना के तहत महिलाओं को सामाजिक स्तर पर भी सशक्त कर रही है। अभी तक कुल 10.45 लाख स्वयं सहायता समूहों का गठन किया जा चुका है, वहीं एक करोड़ 30 लाख परिवारों की महिलाओं को इन समूहों से जोड़ा जा चुका है। 62 अस्पतालों में दीदी की रसोई, अनुसूचित जाति/जनजाति, आवासीय विद्यालयों एवं अन्य संस्थानों में 14 दीदी की रसोई का संचालन जीविका दीदियों द्वारा किया जा रहा है। वास्तव में नीतीश सरकार के कार्यों की गूंज अब देश के साथ दुनिया में भी सुनाई पड़ रही है।

About Post Author

You may have missed