PATNA : रामकृष्णा नगर में एक दर्जन दुकानों में लगी भीषण आग, दुकानदारों की करोड़ो की संपत्ति जली

  • लोगों ने बाईपास सड़क जाम कर की आगजनी, सरकार से मुआवजा मांगा
  • पीड़ितों के आंसू पोछने पहुंचे रामकृपाल यादव

पटना। राजधानी पटना के राम कृष्णा नगर इलाके में आधी रात करीब 1:30 बजे अचानक कई दुकानों में आग लग गई और देखते-देखते एक दर्जन दुकानें आग की भीषण चपेट में आ गई। इस भीषण अग्निकांड में करीब एक करोड़ का नुकसान हुआ है। राम कृष्णा नगर के घनी आबादी वाले इलाके में आग लगी में 1 दर्जन दुकानें जलकर राख हो गई है इस के आसपास के दुकानदार के दुकानों को भी लपटों ने अपनी आगोश में लेने का प्रयास किया था जिसे दमकल कर्मियों ने बुझाकर उनकी दुकानों को जलने से बचाया। आग की भीषण लपटों के बारे में आसपास के लोगों ने बताया कि इस कदर आग की लपटें उठ रही थी कि इस सड़क से उस तरफ पार करना मुश्किल था। पूरा इलाका आग के शोलों में धधक रहा था। इतना ही नहीं आज की ऊंची ऊंची लपटें सड़क के दूसरे तरफ की दुकानों के बोर्ड और बैनर को भी जला डाला। सबसे अधिक नुकसान इस इलाके के बड़े किराना दुकान के मालिक रामबाबु साव की शिव किराना दुकान में हुआ है।वही आग बुझाने आधा दर्जन से अधिक दमकल की गाड़ियां पहुंची लेकिन तब तक एक दर्जन दुकानों में रखा सारा सामान आग में धुधु जलकर राख में तब्दील हो रहा था। करीब 5 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद दमकल और रामकृष्ण नगर थाना पुलिस के साथ स्थानीय लोग आग पर पूरी तरह काबू पाने में सफल हुए जिससे आग वहां सटे दूसरे दुकानों में नहीं फैल पाई। वहीं दुकानदारों की नाराजगी इस बात को लेकर थी कि अग्नि कांड की सूचना देंने के करीब 2 घंटे बाद दमकल की गाड़ियां आग बुझाने पहुंची थी। दुकानदारों का कहना था कि अगर समय पर दमकल की गाड़ी आ जाती तो उनका बहुत सारा सामान जलने से बच सकता था। नाराज दुकानदारों ने पटना बाईपास सड़क को रामकृष्णानगर के सामने जामकर आगजनी करते हुए सरकार व प्रशासन से मुआवजे की मांग भी की।

वही स्थानीय सांसद रामकृपाल यादव घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ित दुकानदारों से मिलकर उनके आंसू पोंछे। सांसद को देख पीड़ित दुकानदार फफक कर रोने लगे। अग्निकांड में पीड़ित दुकानदारों ने अपने सांसद को रोते हुए दिखाया कि होली के पर्व के पहले ही कर्ज लेकर लाखों का सामान खरीदे थे जो सारा जमा पूंजी अग्नि के लपटों में जलकर राख हो गया। सांसद रामकृपाल यादव ने कहा कि जैसे ही उन्हे अगलगी की सूचना मिली अपनी जनता के पास पहुंच गए। एक दर्जन दुकानों में लगी आग की भयावहता को देख सांसद 3 घंटे से अधिक समय तक वहां पीड़ित दुकानदारों के बीच बैठे रहे। उन्होंने कहा कि उन्होंने पटना के सदर अनुमंडल अधिकारी को फोन पर अगलगी की सूचना देते हुए कहा है कि पीड़ित दुकानदारों का लिस्ट बनवा कर कितना नुकसान हुआ है सरकारी नियमानुसार उनकी भरपाई जल्द से जल्द करवाएं।

About Post Author