December 10, 2022

कर्नाटक निकाय चुनाव: भाजपा से 53 सीटें ज्यादा जीती कांग्रेस; जेडीएस तीसरे नंबर पर

बेंगलुरु। कर्नाटक में 105 शहरी स्थानीय निकाय चुनाव के नतीजे सोमवार को घोषित किए गए। 2662 सीटों में से कांग्रेस को 982, भाजपा को 929, जेडीएस को 375 सीटों पर जीत मिली। 329 सीटें निर्दलीय उम्मीदवारों के खाते में गईं। इन सीटों के लिए 31 अगस्त को 67.5 फीसदी मतदान हुआ था। इसके अलावा मैसूर, शिवामोगा और तुमाकुरु नगर निगम के 135 वार्डों में भी इसी दिन मतदान हुआ था। शहरी स्थानीय निकाय चुनाव में वोटर्स की कुल संख्या 36 लाख है। 13.33 लाख वोटर्स मैसूर, शिवामोगा और तुमाकुरु से हैं। शहरी निकाय चुनावों में कुल 8,340 उम्मीदवार मैदान में थे। इनमें कांग्रेस के 2306, भाजपा के 2203 और जेडीएस के 1397 उम्मीदवार थे। वहीं, शहर निगम चुनावों में 814 उम्मीदवार हैं। इनमें कांग्रेस से 135, भाजपा से 130 और जेडीएस से 129 उम्मीदवार शामिल हैं।
अलग-अलग चुनाव लड़े कांग्रेस और जेडीएस : स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस और जेडीएस अलग-अलग चुनाव लड़े। चुनाव नतीजों के बाद पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने कहा कि भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए कांग्रेस और जेडीएस साथ आ जाएंगे। 2013 में 4976 सीटों के लिए चुनाव हुए थे। तब कांग्रेस ने 1,960 सीटों पर जीत दर्ज की थी। वहीं, जेडीएस ने 905 और भाजपा ने भी 905 सीटों जीत हासिल की थी।
विजय जुलूस पर तेजाब फेंका: तुमकुर में कांग्रेस उम्मीदवार के विजय जुलूस में अज्ञात हमलवरों ने तेजाब फेंक दिया। इसमें 8 लोगों के घायल होने की खबर है।

About Post Author

You may have missed