December 6, 2022

बैन के बाद भी बिक रहीं आंध्र प्रदेश की मछलियां

गयाः डुमरिया प्रखंड के बाजारों में आंध्र प्रदेश की मछलियां की बिक्री पर रोक लगाने के बाबजूद भी धड़ल्ले से बिक रही है हम आपको बता दंे की बिहार सरकार ने कुछ दिन पहले ही आंध्र प्रदेश की मछलिया पर बैन लगा दी है जिसका कारण कैंसर होने का खतरा बताया गया था ।आंध्र प्रदेश से बिहार में मछलियां बहुत ज्यादा मात्रा में आती है जो आंध्र प्रदेश से मछलियो को बिहार लाने में कई दिनों का समय लगता है जिसके लिये आंध्र प्रदेश के ब्यापारियों के द्वारा फॉमलीन रसायन का उपयोग किया जाता है ।यह फॉमलीन रसायन के इस्तेमाल मछलियों को अधिक दिनों तक रिजर्व रखने के लिये किया जाता है बिहार सरकार को मछली में फॉमलीन जैसा रसायन होने की शिकायत मिली थी। और इससे मानव के शरीर मे कैंसर जैसी भयानक रोग उत्पन्न हो सकता है इसी बात को लेकर बिहार सरकार ने आंध्र प्रदेश की मछलियां को लैब टेस्टिंग कार्रवाई ।जिसे जाँच करने के लिये यह लैब टेस्टिंग को कोलकाता सी एफ आर आई को कोचिंग लाइब्रेरी में भेजा गया जहाँ पर यह बात सही पाई गई। जिसके कारण बिहार सरकार ने आंध्र प्रदेश की मछलिया पर एक अक्टूबर से बैन लगा दी थी।लेकिन डूमरिया प्रखंड मैगरा बाजार ,मांडर बाजार ,डूमरिया मंझौली बाजार, कोलशैता बाजार, नारायणपुर बाजार ,पर मछलियों की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है ।हालांकि इस बात की जानकारी ग्रामीणों तक नही पहुँची है जिसके कारण गांव के लोग बेफिक्र होकर इन मछलियों को खरीदकर खा रहे है ।यदि गांव में इस बात की जागरूकता नही फैलाई गई तो आने वाले दिनों में बिहार में कैंसर से पीड़ित हो सकते है

About Post Author

You may have missed