बिहार में तेजस्वी यादव के नेतृत्व में महागठबंधन लड़ेगा विधानसभा चुनाव, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने की घोषणा

पटना। बिहार विधानसभा का अगला चुनाव महागठबंधन के घटक दल तेजस्वी यादव के नेतृत्व में लड़ेंगे। कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने शनिवार को इसकी घोषणा की। उन्होंने संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कई बार कहा है कि अगला चुनाव तेजस्वी के नेतृत्व में लड़ेगे। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं हमलोगों ने वर्ष 2020 का विधानसभा चुनाव भी तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री चेहरा मानकर ही लड़ा था। अखिलेश ने कहा कि तब नीतीश कुमार उधर (एनडीए) थे। उस समय हम लोगों (राजद-कांग्रेस गठबंधन) ने तेजस्वी को ही सीएम मानकर चुनाव लड़ा था। सीएम नीतीश के तेजस्वी को लेकर हाल के दिनों में दिए गए कई बयानों पर अखिलेश सिंह से सवाल किया गया था। इसी को लेकर अखिलेश ने स्पष्ट किया कि तेजस्वी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने के बारे में सीएम नीतीश पहले भी कई बार बातें कर चुके हैं। वहीं उनका दल कांग्रेस जब वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव में राजद के साथ गठबंधन में था तब उन लोगों ने तेजस्वी को मुख्यमंत्री का चेहरा बताकर ही चुनाव लड़ा था। इसलिए अब अगले चुनाव में तेजस्वी के चेहरे के सहारे चुनाव लड़ा जा सकता है। बिहार में हुए वर्ष 2020 के विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार की पार्टी जदयू तब एनडीए का हिस्सा थी। चुनाव परिणाम एनडीए के पक्ष में रहा था। वहीं प्रतिद्वंद्वी के रूप में कांग्रेस और राजद एक साथ चुनाव मैदान में उतरे थे। चुनाव में तेजस्वी को कई मंचों से मुख्यमंत्री के रूप में बताकर प्रोजेक्ट किया गया। राजद ने सर्वाधिक विधानसभा की सीटों पर जीत हासिल की लेकिन एनडीए गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला। बाद में अगस्त 2022 में फिर से बिहार में बड़ा सियासी बदलाव हुआ। नीतीश कुमार ने एनडीए से नाता तोड़ लिया। वे महागठबंधन के बैनर तले बिहार में सरकार बनाए और खुद सीएम जबकि तेजस्वी यादव को उप मुख्यमंत्री बनाया। वहीं इस सरकार में कांग्रेस सहित कुल छह दल शामिल हैं। अब अगले विधानसभा को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश ने कहा कि अगला चुनाव तेजस्वी के नेतृत्व में होगा।

About Post Author

You may have missed