Sun. Jul 21st, 2019

रामकृष्णा नगर के पिपरा में निजी स्कूल संचालक और स्थानीय लोगों में झड़प , पथराव-फायरिंग

लोगों ने दरोगा और गार्ड को बंधक बनाया

फुलवारी शरीफ। पटना के रामकृष्णा नगर के पिपरा में एक बड़े निजी स्कूल संचालक और स्थानीय ग्रामीणों के बीच सुबह सुबह जमकर मारपीट हो गयी। इस मारपीट का बवाल इतना बढ़ गया कि ग्रामीणों के उग्र तेवर को देख स्कूल संचालक के साथ आये सुरक्षा गार्डों ने फायरिंग कर दी। इसके साथ ही रोड़ेबाजी और पथराव से इलाका रणक्षेत्र में बदल गया। लोगो का आरोप है कि भागते हुए स्कूल संचालक के गार्डो ने कई राउंड फायरिंग किया है। इस घटना में किसी हताहत होने की खबर नही है । आक्रोशित ग्रामीणों ने स्कूल संचालक के एक गार्ड को बंधक बना लिया है और उसके गन को तोड़ दिया। मौके पर पहुंची राम कृष्ना नगर थाना पुलिस को भी आक्रोशित लोगों का कोपभाजन बनना पड़ा है। ग्रामीणों का आरोप है गांव की घनी आबाद वाले इस सड़क पर इस स्कूल किं बसे काफी तेज रफ्तार से चलती है जिससे बराबर दुर्घटना की नौबत आ जाती है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार की सुबह पिपरा निवासी सुबोध कुमार अपने घर से बाइक निकाल रहे थे तभी इस इलाके की एक बड़े निजी स्कूल की बस गुजरने के दौरान सुबोध को बाइक टकरा गई। इसके बाद सुबोध ने बस के चालक की क्लास लेने लगे और बोले कि गाड़ी धीरे ले जाना चाहिये। इस मामूली बात पर स्कूल बस चालक और सुबोध में झगड़ा हो गया। इस दौरान सुबोध ने बस चालक पर हाथ चला दिया जिसके बाद चालक ने इसकी खबर स्कूल संचालक रंजन कुमार को दे दिया। इसके बाद स्कूल संचालक रंजन कुमार दो लक्जरी गाड़ियों में सवार होकर अपने सादे और वर्दीधारी सुरक्षा गार्डों के साथ पहुंचे तो सुबोध के पक्ष में खड़े स्थानीय लोगो से झगड़ा बढ़ गया। इस दौरान लोगो के आक्रोश को देखते हुए सुरक्षा गार्ड ने फायरिंग कर दी। जिसे लोगों ने पकड़ा और उसका हथियार तोड़ दिया। इसके बाद लोग स्कूल संचालक को खदेड़ दिया। उनके वाहन पर लोगो ने ईंट पत्थरो से हमला कर दिया जिसके बाद भागते हुए स्कूल संचालक के गार्डो ने कई राउंड फायरिंग की। बताया जाता है कि पांच राउंड फायरिंग हुई है। पकड़े गए सुरक्षा गार्ड को लोगो ने पिट दिया फिर उसने ग्रामीणों को बताया कि उसके मालिक रंजन कुमार के कहने पर ही उसने फायरिंग की है। सुरक्षा गार्ड लोगों से हाथ जोड़कर छोड़ देने की गुहार लगाता रहा लेकिन आक्रोशित लोग मानने को तैयार नही हो रहे थे।इसके बाद मौके पर रामकृष्ण नगर के एक दरोगा मामले को सलटाने पहुंचे जिसे उग्र लोगो ने बंधक बना लिया। इलाके में भारी अफरा तफ़री का माहौल बना रहा। महिलाये भी सड़क पर निकल कर हो हंगामा करने लगीं । बवाल और सुरक्षा गार्ड और दरोगा के बंधक बनाए जाने की खबर मिलते ही रामकृष्ण नगर थानेदार भारी संख्या में फोर्स लेकर पहुंचे और लोगो को समझाने में जुटे हैं। राम कृष्ना नगर थानेदार सुबोध कुमार ने भी स्कूल संचालक के गार्डो द्वारा फायरिंग करने की बात स्वीकार किया है। हालात तनाव पूर्ण लेकिन कंट्रोल में बताया जा रहा है। लोगो का आरोप है कि बड़ी दिग्गज हस्ती से जुड़ा स्कूल है जिसके चलते उसके स्थानीय प्रबंधन काफी तैश में रहते हैं और उसके कारण ही स्कूल की बसों के चालको का मन बढ़ा हुआ रहता है।

इस मामले में पिपरा निवासी सुबोध ने रामकृष्ण नगर थाना में मामला दर्ज कराते हुए स्कूल संचालक रंजन सिंह, पुत्र रितु राज सिंह साथ में आये नित्यानंद सिंह, शनि सिंह, विनीत कुमार सुरक्षा गार्ड शंकर दयाल यादव के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने लोगो द्वरा तोड़े गए हथियार और उसके कारतूस को जप्त कर लिया है। सुबोध ने पुलिस को दिए आवेदन में बताया है कि उसके घर के पास सुबह में स्कूल की कई बसों से सड़क पर जाम लगा हुआ था। उसने बस चालको को कहा कि गाड़ी आगे पीछे करो मुझे बाइक निकलना है । इसी बात को लेकर विवाद बढ़ गया । पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी है।