Thu. Jun 27th, 2019

बाढ़-सकसोहरा मार्ग पर चलेगी राज्य सरकार की बसें, टाल होगा आतंक मुक्तः ललन सिंह

पटना/बाढ़। लोकसभा चुनाव खत्म होते ही मुंगेर के नवनिर्वाचित सांसद एवं लोकसभा में जदयू के संसदीय दल के नेता राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह एक्टिव मोड में आ गए हैं। उन्होंने गुरुवार को मोकामा के निर्दलीय विधायक एवं टाल क्षेत्र में छोटे सरकार के नाम से प्रख्यात अनंत सिंह का बिना नाम लिए रिपोर्टरों को संबोधित करते हुए उन्होंने इशारों इशारों में अनंत सिंह को सख्त हिदायत दे डाली है। ललन सिंह ने लोकसभा चुनाव के दौरान लोगों से वादा किया था कि बाढ़ को भयमुक्त एवं आतंक राज से मुक्ति दिलाएंगे, साथ ही एनटीपीसी से भूत को भगाएंगे। जिसके जवाब में छोटे सरकार अनंत सिंह ने कहा था कि एनटीपीसी से भूत को भगाना है तो अभी भगाएं। बता दें  राजद नेता तेजस्वी यादव के विरोध के कारण अंतिम समय में कांग्रेस ने मुंगेर लोकसभा से अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी को उम्मीदवार घोषित किया था। इस हॉट सीट पर देश भर की नजरें टिकी हुई थी। उस वक्त जदयू उम्मीदवार ललन सिंह ने कहा था कि चुनाव परिणाम आने दीजिए महागठबंधन का नाम लेने वाला भी कोई नहीं रहेगा, लेकिन राजनीतिक पार्टियों को उनके इस बयान पर विश्वास नहीं हुआ और ललन सिंह ने लोकसभा चुनाव में नीलम देवी को लाखों मतों से पराजित कर मुंगेर में अपना परचम लहराया।

बता दें कि पूरे टाल क्षेत्र में छोटे सरकार उर्फ अनंत सिंह की तूती बोलती है। बाढ़ से सकसोहरा के बीच एकमात्र अनंत सिंह की बसें चलती है और अनंत सिंह के डर से कोई दूसरा व्यक्ति उक्त मार्ग पर बस चलाने की हिमायत नहीं करता, लेकिन आज ललन सिंह के बयान से यही लगता है कि मुंगेर लोकसभा को भय एवं आतंक से मुक्ति दिलाने के लिए उन्होंने कमर कस ली है। ललन सिंह ने एनटीपीसी के अधिकारियों को चेताते हुए कहा है कि अब एनटीपीसी में कमीशन खोरी नहीं चलेगी। मजदूरों से कमीशन लेना बंद करें और इस अवैध काम को करने वालों पर हर हाल में कार्रवाई हो। ललन सिंह इतने पर भी नहीं रुके। उन्होंने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि बाढ़ से सकसोहरा और हरनौत के बीच परिवहन विभाग द्वारा राज्य सरकार की ट्रांसपोर्ट सेवा शुरू होगी। जिससे अनंत सिंह की सवारी गाड़ी पर बैठनेे की बाध्यता यात्रियों की खत्म हो जाएगी। बताया जाता है कि इस रूट पर विधायक अनंत सिंह की सवारी गाड़ी ही सिर्फ चलती है। यात्रियों को भेड़़ बकरियों की तरह उक्त सवारी गाड़ी में सवार होकर गंतव्य तक सफर करना पड़ता है और कुछ बोलने पर उनके साथ मारपीट भी किया जाता है। प्रेस वार्ता में सूचना जन सम्पर्क मंत्री नीरज कुमार, बाढ़ बिधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू , जदयू युवा प्रदेश उपाध्यक्ष मनीष सिंह भी मौजूद थे।

बहरहाल, हाल अब देखना है ललन सिंह बाहुबली विधायक अनंत सिंह के भय और आतंक से टाल के लोगों को कितना हद तक निजात दिलाने में सफल हो पाते हैं।