Tue. May 21st, 2019

बिहटा का मुस्तफापुर सूर्य मंदिर  में पूजन व आराधना से पूर्ण  होती है मनोकामना

बिहटा (मृत्युंजय कुमार)। राजधानी पटना से 30 किलोमीटर पर स्थित औद्योगिक तथा शिक्षा के हब से प्रचलित बिहटा प्रखंड के मुस्तफापुर गांव में स्थित भगवान भास्कार के मंदिर में जहां पूजा-अर्चना और आराधना से सभी लोगों की मनोकामना पूर्ण होती है।  वहीं छठ पूजा के समय भारी भीड़  देखी जाती  है। इस कारण बिहार के कोने-कोने से श्रद्धालु यहां अर्घ्य देने के लिये पहुंचते हैं और बताते चलें कि गा्रमीणों के सहयोग से इस मंदिर की नींव 20 जून वर्ष 1988 को पूर्व केंद्रीय ग्रामीण  राज्यमंत्री चंद्रदेव प्रसाद वर्मा द्वारा रखी गयी थी। जिसकी 8 मार्च 1990 को प्राण प्रतिष्ठा के बाद यहां पूजा  शुरू हुयी थी। मंदिर का निर्माण कार्य पूर्व अध्यक्ष स्वर्गीय रामजन्म की देखरेख में संपन्न की गयी। इस बाबत सूर्य मंदिर संचालन समिति के अध्यक्ष सर्वानंद सिंह ने बताया कि छठ पूजा के दौरान लोहड़ से इस स्थल पर राज्य के कोने-कोने से लोग पूजा-अर्चना करने पहुंचते हैं। मंदिर को लेकर ऐसी मान्यता है कि इस स्थल पर जो लोग पूजा-अर्चना कर जो भी मन से मांगते हैं, वह पूर्ण होती है। वहीं मंदिर  के बारे में मुस्तफापुर के जर्नादन ठाकुर ने बताया कि लगभग 40 एकड़ में फैला है। वर्तमान में सूर्य मंदिर  समिति के अध्यक्ष सर्वानंद सिंह, उपाध्यक्ष रामप्रवेश सिंह, सचिव देवंद्र ठाकुर, कोषाध्यक्ष जगत सिंह  सहित अन्य लोग है।